सुरजेवाला की मंशा जींद की सेवा करना नहीं बल्कि कांग्रेस की गुटबाजी में अपना कद मजबूत करने की है: उमेद सिंह रेढू

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Jind, 20 Jan,2019

इनेलो-बसपा प्रत्याशी उमेद सिंह रेढू डोर-टू-डोर अभियान के तहत कंडेला खाप के मनोहरपुर, बरसाना, तलोडा और खेड़ी गांव पहुंचे। डोर-टू-डोर अभियान के दौरान गांववासियों ने उनका जोरदार स्वागत किया और उन्हें आश्वस्त किया कि इस उपचुनाव में कंडेला की छत्तीस बिरादरी उनके साथ है और उन्हें बड़े मार्जन से जिताने का काम करेगी।
उमेद सिंह रेढू ने गांववासियों से अपील की कि वह उनके लोकल उम्मीदवार हैं और जींद के विकास के लिए वचनबद्ध हैं। उन्होंने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार ने चार साल में जींद के लिए कुछ नहीं किया अब उपचुनाव में झूठे वायदे कर जनता को भ्रमित करने का काम कर रही है। जिस प्रकार भाजपा ने चार साल में प्रदेश की जनता को ठगने का काम किया वैसे ही जींद की जनता को जुमलों का प्रलोभन देने का प्रयास कर रही है।
कांग्रेस प्रत्याशी रणदीप सुरजेवाला पर तीखा हमला बोलते हुए रेढू ने कहा कि सुरजेवाला भगौड़ा है जो जनता से वोट तो ले लेता है पर जब उनकी सेवा और समस्याओं के समाधान की बारी आती है तो हलका छोड़ भाग खड़ा होता है। उन्होंने याद दिलाया कि कांग्रेस प्रत्याशी जीत के बाद पहले नरवाना से भागा और फिर कैथल से। सुरजेवाला की मंशा जींद की सेवा करने की नहीं बल्कि कांग्रेस की गुटबाजी में अपना कद मजबूत करने की है। जींद की जनता अपनी राजनैतिक समझ और स्पष्ट दृष्टिकोण के लिए जानी जाती है जो भगौड़े उम्मीदवार को कभी भी स्वीकार नहीं करेगी।
जेजेपी समर्थित प्रत्याशी दिग्विजय सिंह को अति महत्वकांक्षी बताते हुए रेढू ने कहा कि न तो इनकी पार्टी अभी तक दर्ज हो पाई है और न ही इनकी पार्टी का कोई अस्तित्व है। रेढू ने कहा कि दिग्विजय सिंह ने झूठा एफिडेविट नामांकन के दौरान दिया है जिसके चलते उनकी उम्मीदवार रद्द होना तय है। इसलिए जनता ऐसे प्रत्याशी को वोट देकर अपना जनमत  के व्यर्थ न करे। उन्होंने यह भी कहा कि जो अपने सगों का नहीं हुआ वह जनता का क्या होगा। दुष्यंत चौटाला ने अपने निजी स्वार्थों के लिए अपने छोटे भाई को जींद उपचुनाव में उतारा है न कि जनता की सेवा के लिए। इस उपचुनाव में जनता उन्हें ऐसा सबक सिखाएगी कि उनकी महत्वकांक्षाएं तो दूर उनके दल का नामोनिशान भी नहीं बचेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *