हरियाणा की बेटी विकास राणा ने रचा इतिहास, स्कीइंग कर नीचे उतरने वाली भारत की पहली खिलाड़ी बनी  

Breaking चर्चा में दुनिया देश बड़ी ख़बरें युवा हरियाणा हरियाणा विशेष

Gulshan Chawla, Yuva Haryana

Narwana, 15 Sep, 2018 

साउथ अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी को फतेह करने के बाद विकास राणा ने यूरोपीय महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एल्ब्रूस को भी फतेह कर एक नया इतिहास रच डाला है।

जींद के गांव सुदकैन खुर्द की इस बेटी ने वो कारनामा कर दिखाया, जो आजतक किसी ने नहीं किया। माउंट एल्ब्रूस को फतह करने के बाद विकास स्कीइंग करते हुए नीचे आई और ऐसा करने वाली वो विश्व की इकलौती खिलाड़ी बन गई हैं।

स्कीइंग खिलाड़ी विकास राणा के सम्मान में एक समारोह का आयोजन भी किया गया। इस समारोह में करीब एक दर्ज़न सामाजिक संस्थाओ ने भी भाग लिया था।

बेटिया बेटो से किसी भी छेत्र  में पीछे नहीं है, ये अंतरराष्ट्रीय स्कीइंग खिलाड़ी विकास राणा ने चार सितम्बर को एल्ब्रुस पर तिरंगा फहराकर साबित कर दिया है। देश का मान सम्मान बढ़ाने वाली विकास के लिए सैंकड़ो लोग उनके अभियान की सफलता के लिए उपवास एवं दुआए कर रहे थे।

विकास राणा की इस सफलता पर खुशी जताते हुए उसके परिजनों ने कहा की संस्था और जींद ही नहीं बल्कि पूरे हिन्दुस्तान का सीना गर्व से चौड़ा हुआ है। विकास राणा देश की सभी बेटियों के लिए एक आइकॉन बन गई ,है उन्होंने कहा की अगर होैंसले बुलंद हो, तो कोई भी मंजिल नामुमकिन नहीं है।

दिल्ली से आए  कोच सुल्ताना ने बताया की  एक गरीब किसान परिवार में जन्मी विकास ने अपने हैंसले की बदौलत एक नया इतिहास रच डाला है।

बता दें कि पंजाब एवं हरियाणा की इकलौती स्कीइंग खिलाड़ी विकास राणा पिछले दिनों साउथ अफ्रीका की किलीमन्जारो चोटी को फतह कर तिरंगा लहराकर आई थीं। उसी अभियान में अब यूरोप की सबसे ऊंची चोटी एल्ब्रूस को फतह किया और तिरंगा एवं बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का बैनर इस चोटी पर लहराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *