प्रशासन के लाख दावे और ढाई करोड़ के खर्च के बावजूद भी यमुना के डूबे गांव

Breaking Uncategorized चर्चा में दुनिया बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

सरकार द्वारा बहुत प्रबंध और व्यवस्था की गई थी कि यमुना के आस पास के गांव बाढ़ से बच जाएं। लेकिन सरकार नाकाम रही, प्रशासन का कहना है कि बाढ़ बचाव के लिए ढाई करोड़ रूपये खर्च किए गए हैं। प्रशसान को आशंका थी कि आस पास के गांव में बाढ़ जरूर आएगी।

इसी के चलते प्रशासन ने नांव व अन्य ज़रूरी सामान का इंतजाम किया था। लेकिन इसके बावजूद गांव में पानी घुसने से रोकने के लिए अब मिट्टी के कट्टों का सहारा लिया जा रहा है। वहीं प्रशासन का कंट्रोल रूम बनाना भी बेकार गया क्यूंकि उस का नंबर किसी नागरिक को पता ही नहीं है। इसी दौरान सरकार के सभी दावे झूठे नजर आये और साथ ही बाढ़ के चलते सात गांव का संपर्क टूट गया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *