15 साल पुरानी सरकार को बदल नया तजुर्बा चाहते थे लोग, हरियाणा में नहीं होगा तीनों राज्यों की हार का असर- वीरेंदर सिंह

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Pradeep Dhankhar, Yuva Haryana

Bahadurgarh, 12 Dec, 2018

राजस्थान ,मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में लोग भाजपा सरकार से ऊब चुके थे। लोग नया तजुर्बा कर देखना चाहते थे। कुछ ऐसा ही तर्क दिया है केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी वीरेंदर सिंह ने तीन राज्यो में भाजपा की हार का। वीरेंदर सिंह का कहना है कि 15 -15 साल से दो राज्यो में भाजपा कि सरकार थी।
उन्होंने कहा कि अगर हर रोज इंसान को वही सब्जी ,वही दाल खाने को मिले, तो वो भी तड़का लगाने की सोचने लगता है और ऐसा ही कुछ चुनावी रिजल्ट में हुआ है। वीरेंदर सिंह ने कहा लोग भाजपा से नाराज नहीं हैं। उन्होंने कहा कि चुनावो में हार एन्टी इनकंबेंसी से नहीं इनकंबेंसी के कारण हुई है।
वीरेंदर सिंह बहादुरगढ़ में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करने आये थे। उन्होंने कहा कि हिंदी राज्यों में भाजपा की हार का असर हरियाणा के चुनावों पर नही पड़ेगा। हरियाणा में तो लोकसभा का असर होगा और हरियाणा के विधानसभा चुनाव समय पर अक्टूबर में ही होंगे।
केंद्रीय मंत्री वीरेंदर सिंह जींद में होने वाली किसान रैली के लिए कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाने आये थे। जींद में 23 दिसम्बर को पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के जन्मदिवस पर किसान रैली की जानी है। इस रैली के जरिये ही वीरेंदर सिंह के बेटे बृजेन्द्र सिंह की राजनीतिक पारी का आगाज हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *