पेंशन नहीं देने पर रोडवेज वोल्वो बस जब्त, विभाग को लग रहा 60 हजार का रोजाना चूना

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Chandigarh, 06 July, 2018

हरियाणा रोडवेज की वोल्वो बस को अदालत के आदेश के बाद जब्त करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि एक बुजुर्ग महिला के पति रोडवेज विभाग में मैकेनिक के पद पर कार्यरत थे, उनकी साल 2006 के बाद से अब तक पेंशन नहीं दी गई है, इसी को लेकर मैकेनिक की पत्नी कैलाश देवी ने अदालत का दरवाजा खटखटाया था।

दरअसल हरियाणा रोडवेज में मैकेनिक रहे धर्मवीर सिंह की कैलाश देवी के पति साल 2006 में रिटायर हो गए थे, उसके बाद से उन्हे अब तक पेंशन नहीं मिली है। महिला ने इसको लेकर अदालत का दरवाजा खटखटाया जिसके बाद अदालत ने 26 फरवरी 2015 को हरियाणा राज्य परिवहन को कैलाश देवी को पति की पेंशन का लाभ देने के आदेश दिये।

लेकिन इसके बाद भी महिला को पेंशन का लाभ नहीं मिला तो अब कोर्ट ने हरियाणा रोडवेज की गुड़गांव डिपो की वोल्वो बस को जब्त करने के आदेश दिये। जिस वक्त कोर्ट के आदेशों के अनुसार बस को जब्त करने टीम पहुंची तो बस चंडीगढ़ जाने के लिए तैयार थी, लेकिन विभाग के अधिकारियों ने यात्रियों को नीचे उतार दिया, जिसके बाद परिवहन विभाग के कर्मचारियों ने टिकट के पैसे वापस लौटाए।

हालांकि अब रोडवेज विभाग को वोल्वो बस जब्त होने के बाद रोजाना 60 हजार रुपये का घाटा लग रहा है, जिसके लिए गलती किसकी है इसको लेकर विभाग के अधिकारी अब लिपिक को दोषी ठहरा रहे हैं, अब उच्चाधिकारियों के पास मामला पहुंचने के बाद लिपिक पर आरोप मंढे जा रहे हैं।

इधर डिपो प्रबंधक गौरव अंतिल ने कहा कि लिपिक की वजह से इतनी बदनामी हुई है, इसलिए लिपिक के खाते से यह राशि काटी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *