13 कैमरे लगने पर बनेगा परीक्षा केंद्र, नकल राेकने काे जारी हाेगा वाॅट‌्सएप नंबर

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
26 Dec, 2019 

हरियाणा शिक्षा बोर्ड ने मार्च माह में होने वाली परीक्षा में नकल रोकने के लिए अभी से कवायद शुरू कर दी है। बता दें कि जिस स्कूलों में 13 सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे, उन्हीं स्कूलों में परीक्षा केंद्र बनाया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों में कैमरे पंचायत द्वारा लगवाएं जाएंगे। अभी तक करीब 25 स्कूलों से परीक्षा केंद्र बनवाने के लिए आवेदन बोर्ड के पास पहुंचे हैं। वहीं, मार्च माह में हुई परीक्षा में ड्यूटी देने में लापरवाही बरतने वाले करीब 432 शिक्षकों को ब्लैक लिस्ट किया गया है।

इस बार अधिक सख्ती के साथ नकल पर अंकुश लगाने का प्रयास किया जाएगा। परीक्षा केंद्र पर ड्यूटी देने वाले शिक्षकों को विद्यार्थियों की तलाशी लेने के बाद फार्म भरकर देना होगा कि किसी के पास मोबाइल फोन नहीं मिला है। ग्रामीण क्षेत्र में पंचायतों का सहयोग लिया जाएगा।

बोर्ड के चेयरमैन जगबीर सिंह ने बताया कि परीक्षा में नकल रोकने के लिए बोर्ड अपने स्तर पर प्रयास कर रहा है। पंचायतों का भी सहयोग मिल रहा है। इसलिए बोर्ड ने सहयोग करने वाली पंचायतों को सम्मानित करने का निर्णय लिया है। प्रदेश भर में करीब 12 पंचायतें हैं, जिन्हें सम्मानित करने के लिए प्रशासन को सिफारिश की हैं। प्रशासन द्वारा इन पंचायतों को गणतंत्र या फिर स्वतंत्रता दिवस समारोह में सम्मानित किया जाएगा।

हरियाणा शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन जगबीर सिंह ने बताया कि जिस विद्यार्थी सीबीएसई से हरियाणा बोर्ड में आए हैं, सीबीएसई यदि माइग्रेशन सर्टिफिकेट देगा तो विद्यार्थी परीक्षा दे पाएंगे। कुछ सेंटर बच्चे को 10वीं या फिर 12वीं परीक्षा का फार्म भरकर भिजवा देते हैं, ऐसे विद्यार्थियों बोर्ड परीक्षा देने की मंजूरी नहीं देगा। बोर्ड अपने नियमानुसार ही कार्य करेगा।

ड्यूल डेस्क की सीएम से की मांग की……

सभी स्कूलों में पर्याप्त संख्या में डेस्क नहीं हैं। इसलिए परीक्षा के दौरान बच्चों को जमीन पर बैठा दिया जाता है। कुछ विद्यार्थियों को परीक्षा देने में असुविधा होती हैं। बोर्ड चेयरमैन ने कहा कि एक कमरे में पहले 32 विद्यार्थियों को बैठाया जाता था। इनकी संख्या घटाकर 24 कर दी गई हैं। जिस स्कूल में डेस्क हैं, वहां पर विद्यार्थियों को उस पर बैठाया जाता है। बोर्ड की तरफ से सीएम मनोहर लाल से भी स्कूलों में डेस्क मुहैया कराने की मांग की गई हैं।

वॉट‌्सएप सूचना पर पहुंचेगी फ्लाइंग स्क्वॉड…..

चेयरमैन ने बताया कि नकल रोकने में वॉट‌्सएप की भी मदद ली जाएगी। इस बार वॉट‌‌सएप नंबर जारी किया जाएगा। जिस पर कोई भी व्यक्ति परीक्षा पर नकल से संबंधित फोटो डाल सकेगा। उसे साथ में लोकेशन भी बतानी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *