फिर सक्रिय हुए यशपाल मलिक, 2 जून को जसिया में रैली, यूपी चुनाव में समर्थन लेकर भी धोखा दिया बीजेपी ने -मलिक

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष
Deepak Khokhar, Rohtak
Yuva Haryana
जाट आरक्षण की मांग को लेकर हरियाणा में फिर से हलचल शुरू हो रही है। आरक्षण संघर्ष समिति के प्रमुख यशपाल मलिक रोहतक पहुंचे और अगले महीने से आंदोलन दोबारा शुरू करने का एलान किया।
अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति का 2 जून को रोहतक के जसिया में जाट महासम्मेलन होगा। इस सम्मेलन में जाट आरक्षण के मुद्दे आगामी आंदोलन की तारीखों का ऐलान किया जाएगा।
यह निर्णय वीरवार को जसिया में हुई समिति की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में लिया गया। बैठक में समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक प्रमुख तौर पर मौजूद रहे और आरक्षण के मुद्दे पर भाजपा सरकार के प्रति नाराजगी जताई। यशपाल मलिक ने कहा कि प्रधानमंत्री, भाजपा अध्यक्ष और हरियाणा के मुख्यमंत्री ने जाटों को आरक्षण देने का वादा किया था लेकिन अब तक सब मुकरते रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने आरक्षण देने का वादा कर उनसे उत्तरप्रदेश चुनाव में समर्थन भी लिया लेकिन अब हर भाजपाई आनाकानी कर रहा है।
बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में यशपाल मलिक ने कहा कि हरियाणा में जाट आरक्षण प्रदेश सरकार की गलत नीतियों के कारण अभी भी कोर्ट की भेंट चढ़ा हुआ है। वहीं, केंद्र का आरक्षण भी सरकार ने अभी तक जान बूझकर संसद में अटका रखा है। उन्होंने कहा कि सरकार, हरियाणा का भाईचारा और जाट आरक्षण आंदोलन को तोड़ना चाहती है।
मलिक ने कहा कि इस बार आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक सभी मांग पूरी नहीं हो जाती। उन्होंने बताया कि 2 जून को जसिया में छोटूराम प्रतियोगी परीक्षा केंद्र के मुख्य निर्माण कार्य की भी शुरूआत होगी।
इसके अलावा जाट नेता ने आरोप लगाया कि भाजपा ने कैप्टन अभिमन्यु, ओमप्रकाश धनखड़ और सुभाष बराला का अपने फायदे के लिए इस्तेमाल किया।

सुनिये क्या कहा यशपाल मलिक ने >>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *