अगर आंदोलनकारियों को हिरासत में लिया गया, तो जाट सड़कों पर उतर आएंगे- यशपाल मलिक

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Deepak Khokhar, Yuva Haryana

Rohtak, 6 Sep, 2018

अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने एक बार फिर हरियाणा सरकार के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी दी है। रोहतक के जसिया में हुई समिति की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में सरकार को चेताया गया कि अगर आंदोलनकारियों को हिरासत में लिया गया, तो जाट सड़कों पर उतर आएंगे।

धरना देने के लिए हर जिले में सड़क किनारे के 10 गांव चिहिृत किए जाएंगे, जो किसी भी समय सड़क पर धरना दे देंगे। 13 सितंबर को प्रदेश के हर जिले में आंदोलनकारी सुनील श्योरण की पुण्य तिथि मनाने का निर्णय लिया गया।

समिति की इस बैठक की अध्यक्षता राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने की। बैठक में प्रदेश के हर जिले के पदाधिकारी मौजूद रहे। मलिक ने एक बार फिर भाजपा नेताओं पर ही वर्ष 2016 में दंगे कराने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि राजस्थान व मध्य प्रदेश चुनाव के बाद वे सीएम मनोहर लाल व वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के खिलाफ दंगे कराने की साजिश रचने का आईपीसी की धारा 120 बी के तहत केस दर्ज कराएंगे।

यशपाल मलिक ने आरोप लगाया कि भाजपा ने ही अलग पार्टी बनाने के लिए सांसद राजकुमार सैनी को फंडिंग की है। भाजपा सैनी को बंदर- बंदरिया का नाच नचाएगी। सैनी की पार्टी के टिकट भी जातीय समीकरण के आधार पर भाजपा ही दिलवाएगी। यशपाल मलिक ने जाट आरक्षण के संबंध में केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह के सुझाव का समर्थन किया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *