साल 2018 में बुलंदियों पर हरियाणा, एक साल में किये बेहतरीन काम

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 31 Dec, 2018

हरियाणा के निवासियों को वर्ष-2018 में जहां विभिन्न विकासात्मक योजनाएं व परियोजनाओं को समर्पित किया गया तो वहीं राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हरियाणा को एक बेमिसाल पहचान मिली है और वर्तमान राज्य सरकार के प्रयासों से हरियाणा को विभिन्न क्षेत्रों में देश के अग्रणी राज्यों में शामिल किया जा रहा है। वर्ष-2018 में हरियाणा ने अभूतपूर्व विकास व उपलब्धियां हासिल की तो वहीं चिरलंबित योजनाओं व परियोजनाओं को भी पूरा करवाने का काम किया है जिससे हरियाणा आज बुलदिंयों पर अग्रसर है।
वर्ष-2018 में वर्तमान राज्य सरकार द्वारा लिए गए विभिन्न निर्णयों व हासिल की गई उपलब्धियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक बेमिसाल पहचान बनाते हुए इज आफ डूईंग बिजनेस में हरियाणा 14वें से तीसरे स्थान पर पहुंचा, जबकि उत्तरी भारत में पहले स्थान पर है। इसी प्रकार, हरियाणा देश में निर्यात के क्षेत्र में 5वें स्थान पर पहुंचा तो वहीं हरियाणा देश में जी.एस.टी. कर संग्रहण में 5वें स्थान पर है।

मुख्य मंत्री मनोहर लाल द्वारा 15 अगस्त, 2018 को हिसार हवाई अड्डे की पुन: निर्मित पट्टी तथा यात्री टर्मिनल का उद्घाटन कर दिया गया है। दशकों से अधूरे पड़े कुण्डली-मानेसर-पलवल (के.एम.पी.) एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य 2,320 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से दोबारा शुरू करवाया गया और 19 नवक्वबर को प्रधानमंत्री ने इसका उदघाटन कर दिया है। रोहतक-महम-हांसी रेलवे लाईन का कार्य भी शुरू हो चुका है और इसके अगामी दो वर्षो में पूर्ण होने की संभावना है। भूमि अधिग्रहण के लिए 366.74 करोड़ रुपये जारी किए जा चुके हैं।

फरीदाबाद के वाई.एम.सी.ए. चौक से बल्लभगढ़ तक मैट्रो शुरू की गई। मेट्रो नीति के तहत 2028 करोड़ रूपये की लागत से 11.183 किलोमीटर लम्बी बहादुरगढ-मुंडका मेट्रो 24 जून, 2018 से शुरू की गई इसमें 7 एलीवेटिड मेट्रो स्टेशन है।
इसी प्रकार, जिला पलवल के गांव दुधोला में विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय स्थापित करने का लिया गया और इसका शिलान्यास किया जा चुका है।