गर्मी में कुछ लापरवाहियां पड़ सकती है, आपके स्वास्थ्य पर भारी-जानिए कैसे

सेहत हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Haryana, 1-04-2018

दिन और रात के तापमान में लगातार हो रहा उतार-चढ़ाव बीमारियों को दावत दे रहा है। गर्मी के चलते उल्टी, दस्त और डायरिया के मरीजों की संख्या अस्पतालों में बढ़ गई है। सरकारी और निजी अस्पतालों की ओपीडी में 25 से 30 प्रतिशत मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। इसमें बच्चों की संख्या अधिक है। गर्मियों में जरा-सी लापरवाही स्वास्थ्य पर भारी पड़ सकता है। हेल्थ स्पेशलिस्टों का कहना है कि गर्मी में शरीर को पानी की अधिक जरूरत होती है। इसलिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए। इस दौरान यह ध्यान रहे की पानी साफ हो। इस मौसम में बैक्टीरिया तेजी से फैलता है।

गर्मियों में जरा-सी लापरवाही स्वास्थ्य पर भारी पड़ जाती है। व्यक्ति बीमार पड़कर सीधे अस्पताल पहुंच जाता है। गर्मी में पेट की बीमारियां सबसे अधिक होती हैं, जिसका मुख्य कारण दूषित खानपान होता है। डिहाइड्रेशन के मरीज इस मौसम में सबसे अधिक सामने आते हैं। अस्पतालों में डायरिया व दस्त के मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। डॉक्टरों का कहना है कि अभी गर्मी और बढ़ेगी। दिन और रात के तापमान में 4 से 5 डिग्री का इजाफा हो सकता है। इसलिए सावधानी बरतने की जरूरत है।

थोड़ी सी लापरवाही संक्रमण का कारण बन सकती है। सड़क के किनारे रेहड़ियों पर खुले में बिकने वाले खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए, क्योंकि खुले में रखे होने के कारण इनसे संक्रमण व फूड पॉइजनिंग होने का खतरा ज्यादा रहता है। हेल्थ विशेषज्ञों का कहना  है कि गर्मी में  जलजीरा, नींबू पानी, जूस, दहीं फायदेमंद होते हैं, लेकिन इन्हें लेने से पहले सफाई का ध्यान रखें। हल्का व सादा खाना खाएं।

इन बातों का रखें ध्यान

-गर्मी में हर दिन चार से छह लीटर पानी पीएं।

-नमक व चीनी का घोल लें। नींबू पानी का सेवन भी फायदेमंद है।

-ताजे फलों का सेवन करें।

-हल्के व सूती कपड़े पहनें। पूरी बाजू की कमीज पहनें।

-छाता लेकर ही धूप में निकलें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *