रोडवेज में चालक व परिचालक की भर्ती के नाम पर फर्जीवाड़ा, युवकों को दिए गए नकली नियुक्ति पत्र

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Jind,  6 April, 2019

रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल के दौरान डिपो स्तर पर आउटसोर्सिंग पॉलिसी- 2 के आवेदनों की आड़ में धोखाधड़ी का धंधा शुरू हो गया है। फर्जीवोड़े का खुलासा तब हुआ जब युवक जीएम कार्यालय में ज्वायनिंग लैटर लेकर पहुंचे।

बता दें जिन युवाओं ने आवेदन किया था अब उन्हें एचएसएससी के फर्जी लैटर पैड पर रोडवेज में चालक और परिचालक के पद नियुक्ति के लिए दस्तावेजों की जांच के लैटर भेजे रहे हैं।

फर्जी लैटरों पर एक मोबाइल नंबर भी दिया गया है, जिस पर फोन करने पर 50 हजार रुपए मांगे जाते हैं। फर्जीवाड़े का खुलासा तब हुआ जब तीन- चार युवा ज्वायनिंग लैटर लेकर जींद जीएम कार्यालय पहुंचे।

2018 में नई परिवहन नीति के विरोध में कर्मचारियों द्वारा हड़ताल की गई थी। जिसके चलते परिवहन विभाग ने आउटसोर्सिंग पॉलिसी- 2 के तहत चालक व परिचालक पद पर युवाओं से आवेदन मांगे थे।

जिसके बाद विभाग को काफी आवेदन प्राप्त हुए थे। काफी युवकों ने कुछ दिन तक काम भी किया था। कर्मचारियों की हड़ताल वापस लेने के बाद, जिन युवकों ने आवेदन किया हुआ था उनके अब हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन की तरफ से ज्वायनिंग लैटर मिल रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *