26.3 C
Haryana
Tuesday, December 1, 2020

पानीपत में दो साल में 12 करोड़ का स्टाम्प ड्यूटी घोटाला, आरटीआई में हुआ खुलासा

Must read

सोने की चमक पड़ी फीकी, 4 साल में सबसे बड़ी गिरावट, फटाफट जानें नए भाव

Yuva Haryana, 01 December, 2020 सोने की कीमतों में 4 साल की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली है। सोमवार को भले ही भारतीय शेयर...

हरियाणा के इस शहर में पहला 4 मंजिला Bus Stand बनकर तैयार, 2021 में होगा उद्घाटन

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा प्रदेश का पहला चार मंजिला बस स्टैंड फतेहाबाद में बनकर लगभग तैयार है। यह बस स्टैंड करीब 8 करोड़...

हरियाणा के इस निर्दलीय विधायक ने वापस लिया भाजपा सरकार से समर्थन, देखिए

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा के दादरी से निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान ने हरियाणा की भाजपा सरकार से समर्थन वापस ले लिया है। विधायक...

दिसंबर महीने में महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर, जानें कितने बढ़े दाम ?

Yuva Haryana, 01 December, 2020 देश में हर महीने की पहली तारीख को गैस सिलेंडर के रेट की समीक्षा होती है। इसके बाद तय किया...

Share this News
0Shares

Yuva Haryana, 19 November,  2020

आरटीआई से पानीपत जिले की पांच तहसीलों में हुई रजिस्ट्रियों में स्टाम्प ड्यूटी की चोरी का खुलासा हुआ है। ऑडिट में 12 करोड़ रुपए की स्टाम्प ड्यूटी की चोरी पकड़ी गई।

बता दें कि 2018-19 और 2019-20 की ऑडिट में जिले की पांचों तहसीलों में 557 रजिस्ट्रियां ऐसी निकली, जिसमें किसी न किसी तरह से स्टाम्प ड्यूटी चुराई गई। शहरवासी सुमित राठी ने जब सरकार ने आरटीआई में दो साल की जानकारी मांगी तो भ्रष्टाचार का पता चला।

अब उन्होंने सीएम विंडो पर शिकायत देकर तहसील कर्मचारियों के कार्रवाई की मांग की है। राठी ने कहा कि कहना कि रजिस्ट्री कराने वालों से ज्यादा बड़ा भ्रष्टाचार कर्मचारियों ने किया है। उन्होंने कहा कि तहसील में दलाल ऐसे नहीं घूमते हैं। इसलिए, सबसे अधिक कमी तहसील के कर्मचारियों की है। सबसे पहले कर्मचारियों पर केस दर्ज होना चाहिए और ब्याज लगाकर राशि वापस ली जाए।

5 तहसीलों में 557 रजिस्ट्रियों में चुराई गई स्टाम्प ड्यूटी

जिले के पांचों तहसीलों में 557 रजिस्ट्रियों में 11.84 करोड़ की स्टाम्प ड्यूटी चुराई गई। इसमें सबसे अधिक पानीपत तहसील की है। इसके ऊपर पूरा प्रशासन बैठता है। तर्क बेशक यह दिया जा रहा हो कि इसमें तहसील कर्मचारियों की कोई गलती नहीं है, लेकिन संदीप की शिकायत है कि इतना बड़ा भ्रष्टाचार बिना कर्मचारियों के मिलीभगत के नहीं हो सकता। किस तहसील में कितनी रजिस्ट्रियों में कितनी स्टाम्प ड्यूटी चोरी की गई।

जानिए, कैसे होती है स्टाम्प ड्यूटी की चोरी

अगर रजिस्ट्री में लिखा रहता है कि कंपनी जमीन बेच रही है और वह जमीन कृषि की दिखाई गई हो तो ऑडिटर इसको पकड़ लेता है।

■ कभी रिहायशी को खाली प्लाॅट बताया गया होता है।

■ कभी कॉमर्शियल को रिहायशी लिखा होता है।

■ तो कभी कवर्ड एरिया कम दिखाया गया होता है।

रजिस्ट्री से पहले साइट देखने का अधिकार नहीं 

रजिस्ट्री से पहले साइट देखने का कोई नियम नहीं है। यह तो किसी शिकायत या ऑडिट में जब गलती पकड़ी जाती है तो मामला जिला कलेक्टर के पास जाता है। इसके बाद साइट देखकर रिकवरी का फैसला लिया जाता है। इसमें तहसील कर्मचारियों की कोई गलती नहीं होती।


Share this News
0Shares

More articles

Latest article

सोने की चमक पड़ी फीकी, 4 साल में सबसे बड़ी गिरावट, फटाफट जानें नए भाव

Yuva Haryana, 01 December, 2020 सोने की कीमतों में 4 साल की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली है। सोमवार को भले ही भारतीय शेयर...

हरियाणा के इस शहर में पहला 4 मंजिला Bus Stand बनकर तैयार, 2021 में होगा उद्घाटन

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा प्रदेश का पहला चार मंजिला बस स्टैंड फतेहाबाद में बनकर लगभग तैयार है। यह बस स्टैंड करीब 8 करोड़...

हरियाणा के इस निर्दलीय विधायक ने वापस लिया भाजपा सरकार से समर्थन, देखिए

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा के दादरी से निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान ने हरियाणा की भाजपा सरकार से समर्थन वापस ले लिया है। विधायक...

दिसंबर महीने में महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर, जानें कितने बढ़े दाम ?

Yuva Haryana, 01 December, 2020 देश में हर महीने की पहली तारीख को गैस सिलेंडर के रेट की समीक्षा होती है। इसके बाद तय किया...

शादी के बंधन में बंधे अभय सिंह चौटाला के छोटे बेटे अर्जुन चौटाला, देखिए तस्वीरें

Yuva Haryana, 01 December, 2020 इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला के छोटे बेटे अर्जुन चौटाला सोमवार को यमुनानगर के पूर्व विधायक दिलबाग सिंह संधू की...