26.3 C
Haryana
Tuesday, December 1, 2020

हरियाणा के बरोदा विधानसभा क्षेत्र की कैसी रही है राजनीति ?

Must read

सोने की चमक पड़ी फीकी, 4 साल में सबसे बड़ी गिरावट, फटाफट जानें नए भाव

Yuva Haryana, 01 December, 2020 सोने की कीमतों में 4 साल की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली है। सोमवार को भले ही भारतीय शेयर...

हरियाणा के इस शहर में पहला 4 मंजिला Bus Stand बनकर तैयार, 2021 में होगा उद्घाटन

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा प्रदेश का पहला चार मंजिला बस स्टैंड फतेहाबाद में बनकर लगभग तैयार है। यह बस स्टैंड करीब 8 करोड़...

हरियाणा के इस निर्दलीय विधायक ने वापस लिया भाजपा सरकार से समर्थन, देखिए

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा के दादरी से निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान ने हरियाणा की भाजपा सरकार से समर्थन वापस ले लिया है। विधायक...

दिसंबर महीने में महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर, जानें कितने बढ़े दाम ?

Yuva Haryana, 01 December, 2020 देश में हर महीने की पहली तारीख को गैस सिलेंडर के रेट की समीक्षा होती है। इसके बाद तय किया...

Share this News
24Shares

Yuva Haryana News, 

Chandigarh, 16 Oct, 2020

बरोदा में कांग्रेस विधायक श्रीकृष्ण हुड्डा के निधन के बाद उपचुनाव हो रहा है। श्रीकृष्ण हुड्डा यहां से लगातार तीन बार विधायक रहे।

यहां पर मतदान 3 नवंबर, 2020 को होगा। आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार नामांकन भरने की अंतिम तिथि 16 अक्तूबर ,2020 है, जबकि नामांकन की जांच 17 अक्तूबर, 2020 को होगी। उम्मीदवारों द्वारा 19 अक्तूबर, 2020 तक नामांकन पत्र वापस लिए जा सकते हैं। 3 नवंबर, 2020 को मतदान होगा और 10 नवंबर, 2020 को मतों की गणना की जाएगी।

एक वक्त था जब बरोदा को इनेलो का गढ़ माना जाता था, यहां पर ताऊ देवीलाल और ओपी चौटाला भी बाजी लगाने आते थे। अब तक के रिकॉर्ड में यहां पर भाजपा का कभी उम्मीद्वार नहीं जीता है। हालांकि पिछले कुछ सालों से यह हल्का भूपेंद्र सिंह हुड्डा का गढ़ बन गया जिसके बाद यहां पर अब भाजपा के लिए कड़ी चुनौती है।

बरोदा विधानसभा जाट बहुल इलाका है। यह ऐसी सीट है जो पूरी तरह से ग्रामीण क्षेत्र से जुड़ी हुई है। 2008 से पहले ये सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित रही है। यहां पर लोकदल का बेहद मजबूत गढ़ रहा है। हालांकि 2009 में यह सीट सामान्य वर्ग में हुई थी। इससे पहले लगातार सात बार ताऊ देवीलाल की लोकदल पार्टी का ही उम्मीदवार जीता था, 2009 के बाद यह सीट कांग्रेस के कब्जे में आ गई।

वरिष्ठ पत्रकार दीपकमल सहारण जी की किताब दिलबदल हरियाणा के मुताबिक यहां पर लोकदल का कब्जा रहा था। आलम ये था कि 1972 में चौधरी श्यामचंद के बाद यहां पर कांग्रेस का विधायक 32 साल बाद 2009 में बना था। बरौदा सीट पर कांग्रेस ने अपने विधायक श्रीकृष्ण हुड्डा को 2014 में दोबारा टिकट दी थी। 2009 में बरौदा से जीतने से पहले श्रीकृष्ण हुड्डा 1987, 1996 और 2005 में किलोई हलके से विधायक रहे थे।

पंचायत से राजनीति शुरु करने वाले श्रीकृष्ण हुड्डा गांव खिड़वाली में दो बार सरपंच रहे थे। ब्लॉक समिति के सदस्य बनने के बाद हुड्डा 1987 में पहली बार लोकदल की टिकट से विधानसभा पहुंचे थे। इसके बाद 1996 में चौटाला की समता पार्टी से ही वो किलोई से विधायक चुने गए थे।

इसके बाद श्रीकृष्ण हुड्डा ने कांग्रेस ज्वाइन कर ली और साल में कांग्रेस की टिकट पर किलोई से चुनाव जीत गए। भूपेंद्र सिंह हुड्डा के मुख्यमंत्री घोषित होने के बाद श्रीकृष्ण हुड्डा ने किलोई की सीट भूपेंद्र सिंह हुड्डा के लिए खाली कर दी थी और इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद भूपेंद्र सिंह हुड्डा किलोई से उपचुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे थे।

2008 के परिसीमन में बरौदा हलके को सामान्य कर दिया गया था, जिसके बाद श्रीकृष्ण हुड्डा बरौदा से चुनाव लड़ने लगे। यहां पर उन्होंने भारी मतों से जीत दर्ज की थी। 2009 के बाद 2014 में भी जीत का सिलसिला जारी रखा, इसके बाद साल 2019 के चुनाव में भी श्रीकृष्ण हुड्डा ही विजयी हुए।

वर्ष 2019 के चुनाव में श्रीकृष्ण हुड्डा ने भाजपा के उम्मीदवार ओलंपिक पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त को 4840 वोटों से हराया था। यहां पर भाजपा के कई नेताओं की आपसी खींचतान भी यहां पर चुनाव हारने का मुख्य कारण मानी जाती है, क्योंकि बरौदा में 2019 के विधानसभा चुनाव में कई नेता टिकट मांग रहे थे, लेकिन यहां पर योगेश्वर दत्त को टिकट थमा दिया था।

 


Share this News
24Shares

More articles

Latest article

सोने की चमक पड़ी फीकी, 4 साल में सबसे बड़ी गिरावट, फटाफट जानें नए भाव

Yuva Haryana, 01 December, 2020 सोने की कीमतों में 4 साल की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली है। सोमवार को भले ही भारतीय शेयर...

हरियाणा के इस शहर में पहला 4 मंजिला Bus Stand बनकर तैयार, 2021 में होगा उद्घाटन

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा प्रदेश का पहला चार मंजिला बस स्टैंड फतेहाबाद में बनकर लगभग तैयार है। यह बस स्टैंड करीब 8 करोड़...

हरियाणा के इस निर्दलीय विधायक ने वापस लिया भाजपा सरकार से समर्थन, देखिए

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा के दादरी से निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान ने हरियाणा की भाजपा सरकार से समर्थन वापस ले लिया है। विधायक...

दिसंबर महीने में महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर, जानें कितने बढ़े दाम ?

Yuva Haryana, 01 December, 2020 देश में हर महीने की पहली तारीख को गैस सिलेंडर के रेट की समीक्षा होती है। इसके बाद तय किया...

शादी के बंधन में बंधे अभय सिंह चौटाला के छोटे बेटे अर्जुन चौटाला, देखिए तस्वीरें

Yuva Haryana, 01 December, 2020 इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला के छोटे बेटे अर्जुन चौटाला सोमवार को यमुनानगर के पूर्व विधायक दिलबाग सिंह संधू की...