19 C
Haryana
Sunday, November 1, 2020

10वीं और 12वीं के छात्रों का 50 फीसदी Syllabus होगा कम

Must read

HSSC ने तीन भर्तियों का एक साथ Final Result किया जारी, देखिये

Yuva Haryana News Chandigarh, 31 Oct, 2020 हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (HSSC) ने Advt. 12/2015 के तहत junior scale stenographer के पदों पर फाइनल परिणाम घोषित...

वायदा है सरकार बनते ही बड़े-बुजुर्गों की पेंशन करेंगे 5400- OP Chautala

Yuva Haryana News Chandigarh, 31 Oct, 2020 इनेलो ने शनिवार को अपने प्रत्याशी के अंतिम दौर के प्रचार के लिए बरोदा गांव में विशाल जलसे का...

दो फीट का आलू उगाने वाले क्या समझेंगे किसानों का दर्द – Deputy CM

Yuva Haryana News Chandigarh, 31 Oct, 2020 Deputy CM ने कहा है कि जिनको यह भी नहीं पता कि आलू क्या होता है? संसद में दो-दो...

मेले में घुसी पुलिस की अनियंत्रित गाड़ी, 2 लोगों को कुचला, नाबालिगा की मौत

Yuva Haryana News Sirsa, 31 Oct, 2020 सिरसा के डबवाली इलाके में आज दर्दनाक हादसा हो गया, जहां पन्नीवाला रुलदू में आयोजित मेले में पुलिस की अनियंत्रित...

Share this News
30Shares

Yuva Haryana News

Chandigarh, 12 Oct, 2020

एक बार फिर से CBSE दसवीं और 12वीं का Syllabus कम करेगा। बोर्ड की तरफ से सिलेबस में और 20 फीसदी की कटौती की जायेगी। इससे पहले जुलाई में सिलेबस 30 फीसदी कम किया जा चुका है। बोर्ड अब दसवीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा 2021 में कुल 50 फीसदी सिलेबस में कटौती करने पर विचार कर रहा है।

दरअसल, कोरोना काल के दौरान छात्रों की पढ़ाई पर गहरा असर पड़ा है। इसी के चलते बोर्ड Syllabus कम करने का फैसला ले रहा है।

बोर्ड अधिकारियों के अनुसार, कोरोना संक्रमण के कारण ऐसा किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण को लेकर लगातार स्कूल बंद हैं। सितंबर से स्कूल खुलने की उम्मीद थी लेकिन अक्टूबर में भी स्कूल नहीं खुल पाए। अब भी ऑनलाइन पढ़ाई पूरी तरह से नियमित नहीं हो पायी हैं। ऐसे में बोर्ड परीक्षार्थी को मानसिक तनाव नहीं हो, इसीलिए सिलेबस कम करने पर विचार किया जा रहा है। बोर्ड सूत्रों के अनुसार इस पर सहमति बन चुकी है।

40 फीसदी छात्र ऑनलाइन कक्षा से बाहर 
प्रदेश भर के ज्यादातर स्कूलों में 40 फीसदी तक छात्र ऑनलाइन पढ़ाई से बाहर हैं। स्कूलों को पता नहीं है कि छात्रों की बोर्ड परीक्षा की तैयारी कैसी है। न तो साप्ताहिक टेस्ट लिया जा रहा है और न ही मासिक। डीएवी बीएसईबी के प्राचार्य वीएस ओझा ने बताया कि बोर्ड परीक्षार्थी को स्कूल बुलाना बहुत जरूरी है। क्योंकि हमें पता नहीं है कि छात्रों की तैयारी कैसी है।

स्कूल की तरफ से बार-बार टेस्ट लिया जाता है। जिन छात्रों की तैयारी कमजोर होती है, उन्हें दुबारा पढ़ाया जाता है। लेकिन इस बार कुछ भी नहीं हो पा रहा है। लोयला हाईस्कूल के प्राचार्य ब्रदर सुधाकर ने बताया कि बोर्ड परीक्षा की तैयारी अलग तरह से करवायी जाती है लेकिन इस बार कुछ नहीं हो पाया है।

 

 


Share this News
30Shares

More articles

Latest article

HSSC ने तीन भर्तियों का एक साथ Final Result किया जारी, देखिये

Yuva Haryana News Chandigarh, 31 Oct, 2020 हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (HSSC) ने Advt. 12/2015 के तहत junior scale stenographer के पदों पर फाइनल परिणाम घोषित...

वायदा है सरकार बनते ही बड़े-बुजुर्गों की पेंशन करेंगे 5400- OP Chautala

Yuva Haryana News Chandigarh, 31 Oct, 2020 इनेलो ने शनिवार को अपने प्रत्याशी के अंतिम दौर के प्रचार के लिए बरोदा गांव में विशाल जलसे का...

दो फीट का आलू उगाने वाले क्या समझेंगे किसानों का दर्द – Deputy CM

Yuva Haryana News Chandigarh, 31 Oct, 2020 Deputy CM ने कहा है कि जिनको यह भी नहीं पता कि आलू क्या होता है? संसद में दो-दो...

मेले में घुसी पुलिस की अनियंत्रित गाड़ी, 2 लोगों को कुचला, नाबालिगा की मौत

Yuva Haryana News Sirsa, 31 Oct, 2020 सिरसा के डबवाली इलाके में आज दर्दनाक हादसा हो गया, जहां पन्नीवाला रुलदू में आयोजित मेले में पुलिस की अनियंत्रित...

सोनीपत में पुलिसकर्मी पर ही चाकू से वार कर किया घायल, आरोपी फरार

Yuva Haryana News Sonipat, 31 Oct, 2020 सोनीपत में एक सब इंस्पेक्टर पर ही एक युवक ने चाकू से वार कर घायल कर डाला। आरोपी शख्स...