21.7 C
Haryana
Friday, December 4, 2020

महिला हवलदार ने 75 दिनों में ढूंढे 76 गुमशुदा बच्चे, कमिश्नर ने किया सैल्यूट, तुरंत दिया प्रमोशन

Must read

हरियाणा में किसानों को सिंचाई में नहीं आएगी समस्या, 50 हजार किसानों को सोलर पंप कनेक्शन देगी सरकार

Yuva Haryana, 04 December, 2020 हरियाणा के बिजली, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री रणजीत सिंह ने कहा बिजली से सोलर ऊर्जा में स्थानातंरित होना एक अच्छा...

HTET के आवेदन के लिए आगे बढ़ी तारीख, 10 दिसंबर तक कर सकते हैं आवेदन

Yuva Haryana, 04 December, 2020 हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड, भिवानी की तरफ से राज्य में पात्रता परीक्षा के लिए आवेदन की तारीखों को आगे बढ़ा...

BJP ने नगर पालिका चुनाव के लिए प्रभारी और सह-प्रभारी किए नियुक्त, देखिए लिस्ट

Yuva Haryana, 04 December, 2020 भाजपा ने नगर पालिका चुनाव के लिए प्रभारी और सह-प्रभारी नियुक्त किए हैं। हरियाणा के भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनकड़ ने...

कोरोनाकाल में हुई अनोखी शादी, दूल्हा-दुल्हन ने किया 2 गज दूरी का पालन

Yuva Haryana, 04 December, 2020 गर्मियों में लोगों ने शादियां यह सोच कर टाल दी कि शायद सर्दियों तक कोरोना खत्म हो जाएगा। लेकिन अब...

Share this News
0Shares

Yuva Haryana, 20 November, 2020

कुछ पुलिसकर्मियों की कहानियां हम सभी के लिए मिसाल हैं। इन्हीं में से एक हैं सीमा ढाका। बता दें कि दिल्ली पुलिस की हवलदार सीमा ढाका ने सेवा के प्रति समर्पण की अनूठी मिसाल पेश की है। समयपुर बादली थाने में तैनात महिला सिपाही सीमा ढाका ने ढाई माह यानी 75 दिन में 76 लापता बच्चों को ढूंढकर उनके परिवारों से मिलवाया है। उनकी अनूठी सेवा को देख पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने सीमा को बारी से पहले तरक्की (आउट ऑफ टर्न प्रमोशन) दी है। अब वह एएसआई बन गई हैं।

सीमा ढाका दिल्ली पुलिस की पहली ऐसी पुलिसकर्मी बन गई हैं, जिन्हें लापता बच्चों को ढूंढने पर आउट ऑफ टर्न प्रमोशन दिया गया है। बारी से पहले तरक्की पाकर हवलदार से एएसआई बनी सीमा ढाका पुलिस महकमे में काफी प्रशंसा हो रही है।

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता डॉ. ईश सिंघल ने बताया कि सीमा ढाका ने जिन 76 लापता बच्चों को ढूंढा है, उनमें से 56 बच्चे 14 वर्ष से कम उम्र के हैं। हवलदार सीमा ने न केवल दिल्ली में लापता बच्चों को ढूंढा है, बल्कि पंजाब व पश्चिमी बंगाल से भी लापता बच्चों को ढूंढा है।

दिल्ली पुलिस आयुक्त समेत अन्य पुलिसकर्मियों को मानना है कि इस तरह बारी से पहले तरक्की मिलने पर अन्य पुलिसकर्मियों को उत्साह बढ़ेगा और लापता बच्चे अधिक संख्या में ढूंढे जा सकेंगे। प्रवक्ता ने बताया कि दिल्ली पुलिस आयुक्त ने पांच अगस्त को गायब बच्चों को ढूंढने वाले पुलिसकर्मियों को बारी से पहले तरक्की और असाधारण कार्य पुरस्कार देने की घोषणा की थी।

 

इसके तहत जो सिपाही व हवलदार एक वर्ष में 14 वर्ष से कम उम्र के 50 या उससे अधिक लापता बच्चों को ढूंढेगा उसे बारी से पहले तरक्की दी जाएगी। जो सिपाही व हवलदार कम से कम 15 बच्चों को ढूंढेगा उसे असाधारण कार्य पुरस्कार दिया जाएगा। दिल्ली पुलिस ने अगस्त तक 1440 लापता बच्चों को ढूंढा है। दिल्ली पुलिस का मानना है कि इस तरह ज्यादा से ज्यादा लापता बच्चे ढूंढे जा सकेंगे।


Share this News
0Shares

More articles

Latest article

हरियाणा में किसानों को सिंचाई में नहीं आएगी समस्या, 50 हजार किसानों को सोलर पंप कनेक्शन देगी सरकार

Yuva Haryana, 04 December, 2020 हरियाणा के बिजली, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री रणजीत सिंह ने कहा बिजली से सोलर ऊर्जा में स्थानातंरित होना एक अच्छा...

HTET के आवेदन के लिए आगे बढ़ी तारीख, 10 दिसंबर तक कर सकते हैं आवेदन

Yuva Haryana, 04 December, 2020 हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड, भिवानी की तरफ से राज्य में पात्रता परीक्षा के लिए आवेदन की तारीखों को आगे बढ़ा...

BJP ने नगर पालिका चुनाव के लिए प्रभारी और सह-प्रभारी किए नियुक्त, देखिए लिस्ट

Yuva Haryana, 04 December, 2020 भाजपा ने नगर पालिका चुनाव के लिए प्रभारी और सह-प्रभारी नियुक्त किए हैं। हरियाणा के भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनकड़ ने...

कोरोनाकाल में हुई अनोखी शादी, दूल्हा-दुल्हन ने किया 2 गज दूरी का पालन

Yuva Haryana, 04 December, 2020 गर्मियों में लोगों ने शादियां यह सोच कर टाल दी कि शायद सर्दियों तक कोरोना खत्म हो जाएगा। लेकिन अब...

किसान आंदोलन में एक और किसान की मौत, अब तक छह अन्नदाताओं ने गंवाई जान

Yuva Haryana, 04 December, 2020 केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए कृषि कानूनों का विरोध लगातार जारी है। वहीं किसान आंदोलन शामिल 55 वर्षीय  किसान...