26 C
Haryana
Thursday, October 22, 2020

बरकरार रहेगा किसानों का MSP का अधिकार, कोई आंच आई तो छोड़ दूंगा पद – Dushyant Chautala

Must read

असली प्रेम कहानी पर आधारित है फिल्म ‘गदर’, पर नहीं हुई थी ‘Happy Ending’

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 गदर 'एक प्रेम कथा' ये फिल्म तो आपने जरूर देखी होगी। 2001 में रिलीज हुई फेमस फिल्म 'गदर एक...

Facebook का नया फीचर होगा मजेदार, पड़ोसियों के बार में जान पाएंगे बेहतर

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 Facebook के दुनियाभर में करोड़ों यूजर्स हैं और हर कोई इस ऐप को बेहद पसंद भी करता है। अब...

हरियाणा में अब हर गांव की जमीन के कलेक्टर रेट होंगे तय, कम होंगे जमीनी विवाद

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 हरियाणा में अब सरकार ने हर गांव की जमीन के कलेक्टर रेट तय करने की तैयारी कर ली है।...

Share this News
274Shares

Yuva Haryana News

Chandigarh, 20 September, 2020

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि केंद्र सरकार के कृषि संबंधित नए अध्यादेशों में कहीं भी फसलों के एमएसपी को समाप्त करने की बात नहीं कही गई है। किसानों की फसल अनाज मंडियों में बिना किसी रूकावट के निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर ही खरीदी जाएंगी और ज्यादा कीमत का अवसर मिलने पर किसान चाहेंगे तो ओपन मार्केट में भी बेच सकेंगे।

जिस दिन अन्नदाताओं को उनकी फसल का एमएसपी देने की व्यवस्था पर कोई आंच आएगी, उसी दिन मैं अपना पद छोड़ दूंगा। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने रविवार को चंडीगढ़ स्थित अपने आवास पर पत्रकारों के सवालों के जबाव में ये बातें कही। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसानों के लिए एमएसपी का अधिकार बरकरार रहेगा और इस विषय पर आम लोग किसी के बहकावे में ना आएं।

डिप्टी सीएम ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा अपने राजनीतिक स्वार्थ की खातिर भोले-भाले किसानों को गुमराह करने में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि नए अध्यादेशों का विरोध करने वाले भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने मुख्यमंत्री रहते हुए ना केवल ओपन मार्किट की वकालत की थी बल्कि केंद्र की तात्कालिक मनमोहन सिंह सरकार द्वारा गठित समिति के चेयरमैन के तौर पर इन सिफारिशों पर दस्तख़त भी किए थे।

उन्होंने हुड्डा से सवाल किया कि वे किसानों को बताएं कि उनके इस दोगली नीति को अपनाने के पीछे क्या मजबूरी है और कांग्रेस प्रदेश के किसानों को क्यूं गुमराह कर रही है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यूपीए सरकार के पहले कार्यकाल में भी कांग्रेस पार्टी के विजन डॉक्यूमेंट में कॉन्ट्रेक्ट फार्मिंग की वकालत की गई थी, लेकिन राजनीति से विवश कांग्रेसी आज व्यवस्था का विरोध कर रहे हैं जबकि यह किसानों के लिए खुशहाली के नए रास्ते खोलने वाला कदम है।

dushyant chautala

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार अगले माह से खरीफ फसलों का एक-एक दाना तय न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदा जाएगा। उन्होंने किसानों की शंकाओं को दूर करते हुए कहा कि बाजरा, धान के अलावा पहली बार मक्के की फसल की भी सरकार एमएसपी पर खरीद करेगी। सरकार द्वारा की गई खरीफ की फसल खरीद का भुगतान एक सप्ताह के भीतर-भीतर किसानों के खाते में कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मेरे लिए किसान के हित सर्वोपरी है। किसानों को लेकर उनकी नीयत में ना कभी कोई खोट आया और ना आगे कभी आएगा।


Share this News
274Shares

More articles

Latest article

असली प्रेम कहानी पर आधारित है फिल्म ‘गदर’, पर नहीं हुई थी ‘Happy Ending’

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 गदर 'एक प्रेम कथा' ये फिल्म तो आपने जरूर देखी होगी। 2001 में रिलीज हुई फेमस फिल्म 'गदर एक...

Facebook का नया फीचर होगा मजेदार, पड़ोसियों के बार में जान पाएंगे बेहतर

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 Facebook के दुनियाभर में करोड़ों यूजर्स हैं और हर कोई इस ऐप को बेहद पसंद भी करता है। अब...

हरियाणा में अब हर गांव की जमीन के कलेक्टर रेट होंगे तय, कम होंगे जमीनी विवाद

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 हरियाणा में अब सरकार ने हर गांव की जमीन के कलेक्टर रेट तय करने की तैयारी कर ली है।...

बरोदा उपचुनाव बीजेपी-जेजेपी गठबंधन भारी मतों से जीतेगा – Deputy

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला ने है कहा कि बीजेपी-जेजेपी गठबंधन बरोदा उपचुनाव को मजबूती से लड़ते हुए जीतेगी।...