21.2 C
Haryana
Tuesday, December 1, 2020

रोहतक में महिला ASI की मौत मामले में पुलिस ने किया बड़ा खुलासा, पति पर केस दर्ज

Must read

केंद्रीय राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया के बिगड़े बोल, कहा- काले झंडे ही दिखाने थे तो कही और मर लेते

Yuva Haryana, 01 December, 2020 अंबाला में रेलवे अंडरब्रिज का शिलान्यास करने पहुंचे केंद्रीय राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया ने आज किसानों को लेकर बड़ा विवादित...

किसान आंदोलन को लेकर Ajay Singh Chautala का बड़ा बयान, ट्वीट कर कही ये बात

Yuva Haryana, 01 December, 2020 पिछले 6 दिनों से लगातार चल रहा किसान आंदोलन को लेकर जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय सिंह चौटाला ने अपनी...

Share this News
50Shares

Yuva Haryana News

Rohtak, 2 Nov, 2020

रोहतक सदर थाने में तैनात महिला एएसआई पपीता देवी की मौत मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। इस मामले में पुलिस ने पति के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि शरीर पर चोट के निशान थे और लीवर भी फटा हुआ था। मायके पक्ष के लोगों ने हत्या की आशंका जताई थी। अब सिटी थाने में केस दर्ज किया गया है।

जानकारी के मुताबिक भिवानी के बड़ेसरा गांव निवासी पपीता देवी हरियाणा पुलिस में एएसआई के पद पर कार्यरत थीं। उनकी पोस्टिंग रोहतक सदर थाने में थी, लेकिन 23 अक्टूबर को संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी। परिजनों ने बताया कि वह काफी समय से परेशान चल रही थी और गलती से जहरीला पदार्थ निगल लिया जिससे इलाज के दौरान मौत हो गई।

इस मामले में महिला एएसआई के भाई पवन को शक हुआ था जिसके बाद पुलिस को शिकायत दी गई थी और शक जाहिर किया था। पवन ने बताया कि उसकी बहन पपीता की शादी करीब 15 साल पहले हिसार के भाटोल खरकड़ा के रहने वाले पवन के साथ हुई थी।

शिकायत में बताया कि बहन की मौत के बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट का पता किया। जिसमें पता चला कि एएसआइ पपीता के शरीर पर चोट के निशान मिले है और उसका लीवर भी फटा हुआ दिखाया गया है। आरोप लगाया कि उसकी बहन पर जीजा शक करता था। इसी वजह से जीजा ने योजनाबद्ध तरीके से चोट मारकर या फिर जहर देकर उसकी हत्या की है। शिकायत के बाद सिटी थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

22 अक्टूबर को जीजा पवन ने ही फोन कर जानकारी दी थी कि पपीता ने जहर खा लिया है और वह अस्पताल में भर्ती है। इसके बाद मायके पक्ष के लोग मौके पर पहुंचे थे। उस समय जीजा पवन ने बताया कि पपीता काफी समय से परेशान चल रही है, जिसका पीजीआइ में इलाज करा रहा हूं। अगले दिन पपीता की मौत हो गई थी।

एएसआइ पपीता की मौत के बाद एक ऑडियो भी वायरल हो रही है। इसमें एसपी कार्यालय में तैनात ओएसआइ ने एएसआइ पपीता को फोन किया था। उन्होंने कहा कि साहब के पास सिफारिश के लिए फोन मत कराना। एसपी साहब सिफारिश नहीं मानते। तुमने किसका फोन कराया था। इस पर एएसआइ पपीता कहती है कि उसके परिवार के सदस्य से गृहमंत्री अनिल विज को कहलवाया था। जिस पर पुलिस अधिकारी कहता है कि आगे से ऐसा मत करना, नहीं तो नुकसान हो जाएगा। दरअसल, एएसआइ पपीता दूसरे थाने में तबादला कराना चाहती थी। इसके लिए यह फोन कराया गया था। यह ऑडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है।

डीएसपी हेडक्वार्टर गोरखपाल राणा ने बताया कि एएसआइ पपीता के भाई की शिकायत पर उसके पति पवन के खिलाफ सिटी थाने में हत्या का मामला दर्ज कर दिया गया है। जो ऑडियो वायरल हो रही है उसकी हकीकत यह है कि एएसआइ पपीता दूसरे थाने में तबादला कराना चाहती थी, जिसकी सिफारिश के लिए फोन कराया गया था। एएसआइ पपीता को सिर्फ यह कहा गया था कि ऐसे सिफारिश के लिए फोन ना कराए।


Share this News
50Shares

More articles

Latest article

केंद्रीय राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया के बिगड़े बोल, कहा- काले झंडे ही दिखाने थे तो कही और मर लेते

Yuva Haryana, 01 December, 2020 अंबाला में रेलवे अंडरब्रिज का शिलान्यास करने पहुंचे केंद्रीय राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया ने आज किसानों को लेकर बड़ा विवादित...

किसान आंदोलन को लेकर Ajay Singh Chautala का बड़ा बयान, ट्वीट कर कही ये बात

Yuva Haryana, 01 December, 2020 पिछले 6 दिनों से लगातार चल रहा किसान आंदोलन को लेकर जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय सिंह चौटाला ने अपनी...

JJP ने इस हलका प्रधान को किया निष्कासित, जानिए वजह ?

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा में जननायक जनता पार्टी ने एक हलका प्रधान को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। आज पार्टी की तरफ...