21.2 C
Haryana
Tuesday, December 1, 2020

GST परिषद की बैठक में Deputy CM Dushyant Chautala ने रखा हरियाणा का पक्ष

Must read

केंद्रीय राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया के बिगड़े बोल, कहा- काले झंडे ही दिखाने थे तो कही और मर लेते

Yuva Haryana, 01 December, 2020 अंबाला में रेलवे अंडरब्रिज का शिलान्यास करने पहुंचे केंद्रीय राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया ने आज किसानों को लेकर बड़ा विवादित...

किसान आंदोलन को लेकर Ajay Singh Chautala का बड़ा बयान, ट्वीट कर कही ये बात

Yuva Haryana, 01 December, 2020 पिछले 6 दिनों से लगातार चल रहा किसान आंदोलन को लेकर जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय सिंह चौटाला ने अपनी...

Share this News
24Shares

Yuva Haryana News

Chandigarh, 13 Oct, 2020

Deputy CM Dushyant Chautala ने केंद्र सरकार की GST परिषद की बैठक में एक बार फिर हरियाणा का दृढ़ता से पक्ष रखा और कहा कि कंपन्सेशन फंड में से हरियाणा के हिस्से की बकाया राशि जल्द जारी कर दी जाए। Deputy CM ने जीएसटी परिषद की 42वीं बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भागीदारी की। नई दिल्ली में जीएसटी परिषद की चेयरपर्सन केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के अलावा परिषद के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी जुड़े हुए थे।

इस अवसर पर राज्यों को दिए जाने वाले कंपन्सेशन फंड से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई। यह बैठक गत 5 अक्टूबर, 2020 को आयोजित बैठक की निरंतरता में थी। इससे पहले केंद्र द्वारा हरियाणा को गत 5 अक्तूबर 2020 को 761 करोड़ रूपए जारी किए गए थे।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बैठक में चंडीगढ़ से ऑनलाइन हिस्सा लेकर हरियाणा राज्य के दृष्टिकोण से परिषद की चेयरपर्सन को अवगत करवाते हुए कहा कि कम से कम उन राज्यों को तो कंपन्सेशन फंड जारी कर देना चाहिए, जिन्होंने बिना किसी देरी के अपने विकल्प दे दिए हैं।

उन्होंने परिषद के उस प्रस्ताव पर सहमति जताई जिसमें भारत सरकार की सहायता से राज्यों द्वारा ऋण उधार लेने की बात कही गई है। जीएसटी की क्षतिपूर्ति जो कि 30 जून 2022 तक पांच साल की अवधि के लिए की जानी थी, अब केंद्र सरकार द्वारा उसके बाद भी कंपन्सेशन सैस लगाने के प्रस्ताव पर उपमुख्यमंत्री ने अपनी सहमति दी।

उल्लेखनीय है कि उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के अनुरोध पर केंद्र सरकार ने जीएसटी के करीब 20,000 करोड़ रूपए के कंपन्सेशन फंड में से हरियाणा को गत 5 अक्तूबर 2020 को 761 करोड़ रूपए जारी कर दिए गए थे। बैठक में कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों, उपमुख्यमंत्रियों, मंत्रियों व कई वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया।


Share this News
24Shares

More articles

Latest article

केंद्रीय राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया के बिगड़े बोल, कहा- काले झंडे ही दिखाने थे तो कही और मर लेते

Yuva Haryana, 01 December, 2020 अंबाला में रेलवे अंडरब्रिज का शिलान्यास करने पहुंचे केंद्रीय राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया ने आज किसानों को लेकर बड़ा विवादित...

किसान आंदोलन को लेकर Ajay Singh Chautala का बड़ा बयान, ट्वीट कर कही ये बात

Yuva Haryana, 01 December, 2020 पिछले 6 दिनों से लगातार चल रहा किसान आंदोलन को लेकर जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय सिंह चौटाला ने अपनी...

JJP ने इस हलका प्रधान को किया निष्कासित, जानिए वजह ?

Yuva Haryana, 01 December, 2020 हरियाणा में जननायक जनता पार्टी ने एक हलका प्रधान को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। आज पार्टी की तरफ...