27.3 C
Haryana
Thursday, October 22, 2020

Unlock-5 में स्कूल-कॉलेज-थियेटर खोलने का रास्ता साफ, 1 अक्तूबर से नई रियायतें घोषित

Must read

असली प्रेम कहानी पर आधारित है फिल्म ‘गदर’, पर नहीं हुई थी ‘Happy Ending’

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 गदर 'एक प्रेम कथा' ये फिल्म तो आपने जरूर देखी होगी। 2001 में रिलीज हुई फेमस फिल्म 'गदर एक...

Facebook का नया फीचर होगा मजेदार, पड़ोसियों के बार में जान पाएंगे बेहतर

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 Facebook के दुनियाभर में करोड़ों यूजर्स हैं और हर कोई इस ऐप को बेहद पसंद भी करता है। अब...

हरियाणा में अब हर गांव की जमीन के कलेक्टर रेट होंगे तय, कम होंगे जमीनी विवाद

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 हरियाणा में अब सरकार ने हर गांव की जमीन के कलेक्टर रेट तय करने की तैयारी कर ली है।...

Share this News
76Shares

Yuva Haryana News, Delhi, 30 September 2020

केंद्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने अनलॉक-5 (Unlock-5) के लिए दिशा निर्देश (Unlock 5.0 Guidelines) जारी की हैं। गृह मंत्रालय के निर्देशों के मुताबिक, अनलॉक-5 में सिनेमाघर, मल्टीप्लेक्स (Cinema Halls & Multiplexes) 50 फीसदी सीटों के साथ खोलने की अनुमति होगी। इसके साथ ही बिजनेस टू बिजनेस (B2B) एक्जिबिशन को भी गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के साथ अनुमति दी गई है। वहीं, यूथ अफेयर्स एंड स्पोर्ट्स मिनिस्ट्री द्वारा अनुमति के बाद खिलाड़ियों के लिए स्विमिंग पूल (Swimming Pool) खोले जा सकते हैं।
अनलॉक-5 के तहत क्या-क्या रहेगा खुला, पूरा विवरण पढ़िये।

क्या-क्या खुलने लगेगा Unlock-5 में —

– सिनेमा/थियेटर/मल्टीप्लेक्स को 50% क्षमता के साथ खोलने की अनुमति होगी, I&B Ministrt इसके लिए SOP जारी करेगा।

– सिनेमा हॉल/मल्टीप्लेक्स/स्विमिंग पूल को स्पोर्ट्सपर्सन की ट्रेनिंग के लिए और एंटरटेनमेंट पार्क को 15 अक्टूबर से फिर से खोलने के लिए नए दिशा निर्देश।

-15 अक्टूबर के बाद स्कूल और कोचिंग संस्थान खोलने का फैसला राज्य सरकारों को करने के लिए कहा गया है। इसके लिए अभिभावकों की लिखित अनुमति जरूरी होगी। Attendence को अनिवार्य नहीं किया जाएगा और बच्चों को स्कूल-कॉलेज में कक्षा लगाने या Online Class लगाने की छूट होगी।

– उच्च शिक्षा संस्थानों में केवल पीएचडी और साइंस एंड टेक्नोलॉजी स्ट्रीम में पीजी के छात्रों के लिए लैब कार्यों की अनुमति होगी, जिन्हें 15 अक्टूबर से खोलने की अनुमति होगी।

-सरकार ने ये साफ किया है ऑनलाइन / डिस्टेंस लर्निंग शिक्षण का पसंदीदा तरीका बना रहेगा और इसे प्रोत्साहित किया जाएगा।

– 15 अक्तूबर के बाद बंद जगहों पर क्षमता से आधी संख्या तक (अधिकतम 200), और खुले स्थानों पर 100 से अधिक लोगों के आयोजन हो सकेंगे। इसके लिए वहां Thermal Scanner, Sanitizer, Mask आदि का इंतज़ाम जरूरी होगा। खुली जगहों में ऐसे आयोजनों में लोगों की संख्या की सीमा नहीं रखी गई है लेकिन Social Distancing सख्ती से बरतने को कहा गया है।


इन सब पर रहेगी पाबंदी —

-सामाजिक, शैक्षणिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक, राजनीतिक और अन्य कार्यक्रमों में केवल 100 लोगों को शामिल होने की अनुमति होगी। ऐसे कार्यक्रमों में कंटेनमेंट जोन में रहने वाले लोगों के शामिल होने पर सख्त पाबंदी रहेगी।

– गृह मंत्रालय द्वारा स्वीकृत अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के अलावा सभी प्रकार की अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी रहेगी। राज्य और राज्य के बाहर किसी सामान या व्यक्ति की किसी भी प्रकार की आवाजाही पर रोक नहीं होगी और ना ही किसी प्रकार की अनुमति या पास की जरूरत होगी।

-भारत सरकार ने कंटेनमेंट जोन में जारी सख्त लॉकडाउन को 31 अक्टूबर तक बढ़ा दिया है।

-व्यवसाय से व्यवसाय (B2B) प्रदर्शनियों को 15 अक्टूबर से खोलने की अनुमति होगी, जिसके लिए वाणिज्य विभाग द्वारा एसओपी जारी की जाएगी।

-बंद जगहों पर 200 लोगों की क्षमता वाले हॉल में आधे लोगों को जाने की इजाजत होगी। ऐसी जगहों पर Face Mask पहनना अनिवार्य होगा और Social Distancing करना, Thermal Scanning और Hand wash और Sanitizer का इस्तेमाल जरूरी होगा।

-अनलॉक के इस चरण में दुर्गा पूजा, नवरात्रि, दशहरा जैसे कई बड़े त्योहार होने वाले हैं ऐसे में सरकार की SOP में इस बात का खास ध्यान रखा गया है कि लोग कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों के साथ त्योहारों को भी हर्षोल्लास से मना सकें।

-गाइडलाइंस में 65 साल से अधिक उम्र के लोगों, गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों, गर्भवती महिलाओं और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर में ही रहने को कहा है और बहुत जरूरी होने पर ही बाहर जाने को कहा है।

– केंद्र ने कहा है कि राज्य सरकारें कंटेनमेंट ज़ोन्स के बाहर अपनी मर्जी से लॉकडाउन नहीं लगा सकती हैं। लॉकडाउन के लिए उन्हें केंद्र के नियमों का पालन करना होगा. जरूरी होने पर केंद्र से परामर्श करके ही फैसला लेना होगा।


Share this News
76Shares

More articles

Latest article

असली प्रेम कहानी पर आधारित है फिल्म ‘गदर’, पर नहीं हुई थी ‘Happy Ending’

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 गदर 'एक प्रेम कथा' ये फिल्म तो आपने जरूर देखी होगी। 2001 में रिलीज हुई फेमस फिल्म 'गदर एक...

Facebook का नया फीचर होगा मजेदार, पड़ोसियों के बार में जान पाएंगे बेहतर

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 Facebook के दुनियाभर में करोड़ों यूजर्स हैं और हर कोई इस ऐप को बेहद पसंद भी करता है। अब...

हरियाणा में अब हर गांव की जमीन के कलेक्टर रेट होंगे तय, कम होंगे जमीनी विवाद

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 हरियाणा में अब सरकार ने हर गांव की जमीन के कलेक्टर रेट तय करने की तैयारी कर ली है।...

बरोदा उपचुनाव बीजेपी-जेजेपी गठबंधन भारी मतों से जीतेगा – Deputy

Yuva Haryana News Chandigarh, 21 Oct, 2020 प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला ने है कहा कि बीजेपी-जेजेपी गठबंधन बरोदा उपचुनाव को मजबूती से लड़ते हुए जीतेगी।...