Home Breaking फरवरी तक अपना कार्यकाल पूरा करेंगी पंचायतें, वक्त से पहले नहीं होंगे चुनाव – दुष्यंत चौटाला

फरवरी तक अपना कार्यकाल पूरा करेंगी पंचायतें, वक्त से पहले नहीं होंगे चुनाव – दुष्यंत चौटाला

0
2.3K+Shares

हरियाणा की पंचायतों के कार्यकाल को लेकर चल रही दुविधा को उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने ये कहकर दूर कर दिया है कि पंचायतें 5 साल का अपना कार्यकाल पूरा करेंगी।

Yuva Haryana News, Chandigarh, 30 June

प्रदेश की ग्राम पंचायतों के कार्यकाल की अवधि को लेकर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने मंगलवार को स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा कि जब तक आगामी पंचायत चुनाव नहीं होते तब तक पुरानी ग्राम पंचायतें काम करती रहेंगी। सरपंचों से न तो उनके थैले लिए जाएंगे और न ही उनके काम-काज में किसी प्रकार की बाधा आएगी। उन्होंने बताया कि संशोधित कानून के तहत पंचायतों का कार्यकाल चुने जाने के 5 साल की अवधि पूरा होने तक है यानी मौजूदा पंचायतें फरवरी 2021 तक काम करती रहेंगी। इतना ही नहीं, डिप्टी सीएम ने पंचायत कार्यों में ई-टेंडरिंग को लेकर चल रही चर्चाओं पर विराम लगाते हुए स्पष्ट किया किया कि पंचायत विभाग की ओर से इस प्रकार के कोई आदेश नहीं है।
हरियाणा सरपंच एसोसिएशन के प्रतिनिधि प्रदेशाध्यक्ष दिलबाग सिंह गुराया के अगुवाई में ग्राम पंचायतों से जुड़े विभिन्न मु्द्दों को लेकर मंगलवार को चंडीगढ़ स्थित पार्टी प्रदेश कार्यालय में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने मिले थे। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, जिनके पास विकास एवं पंचायत विभाग भी है, ने कहा कि संशोधित पंचायती राज अनिधियम 2020 के तहत प्रदेश में ग्राम पंचायतों की पांच वर्ष की अवधि उस दिन से शुरू होगी जिस दिन नई चुनी गई नई पंचायत के गठन की अधिसूचना प्रदेश निर्वाचन आयोग द्वारा जारी की जाएगी। यानि कि सरपंच-पंच सहित पूरी पंचायत उस दिन तक काम करती रहेंगी जबकि आगामी ग्राम पंचायतों के चुनाव की तय समय पर घोषणा नहीं हो जाती। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत के गठन की अधिसूचना की तिथि से लेकर पांच वर्ष की अवधि पूरी होने से पहले न तो सरपंचों से उनका थैला लिया जाएगा और न ही पंचायते भंग होंगी।

डिप्टी सीएम ने कहा कि करोना के चलते प्रदेश में ग्राम पंचायतों के चुनाव करवाने का कोई इरादा नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार का प्रयास है कि यदि हरियाणाा में कोरोना पर काबू पा लिया जाता है तो ग्राम पंचायतों के चुनाव पांच वर्ष की समय अवधि पूरी होने पर आगामी वर्ष 2021 जनवरी-फरवरी में ही करवाए जाएंगे। यदि करोना पर काबू नहीं पाया जा सकता तो सरकार आगामी विकल्पों पर विचार करेगी।
सरपंच एसोएिशन के प्रतिनिधियों द्वारा पंचायतों के विकास कार्य करवाने को लेकर कुछ अधिकारियों द्वारा जारी ई-टेंडरिंग के निर्देशों को लेकर रखे गए मुद्दे पर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पंचायत विभाग की ओर से ग्राम पंचायतों में विकास कार्य करवाने को लेकर किसी प्रकार के ई-टेंडरिंग के निर्देश नहीं दिए गए हैं। ग्राम पंचायतें बीस लाख रूपये तक के विकास कार्य पूर्व प्रणाली की भांति बिना ई- टेंडरिंग के करवाने के लिए अधिकृत हैं। एसोसिएशन प्रतिनिधि मंडल में प्रदेशाध्यक्ष दिलबाग सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष सरपंच अशोक मलिक, कोषाध्यक्ष गुरदेव सिंह, सरपच राममेहर सिंह, सिरसा जिले से रोहतास सिंह, सरपंच आत्माराम,ब्लॉक समिति सदस्य सुल्तान सिंह जबाला, महेंद्र सिंह, ओमप्रकाश आदि शामिल थे।
Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

युवा हरियाणा टॉप न्यूज में पढ़िए आज की सभी छोटी बड़ी खबरें फटाफट

Top News Yuva Haryana 10 july 1. हरियाणा म…