16.9 C
Haryana
Friday, December 4, 2020

Haryana में 228 प्राइमरी और 43 मिडिल स्कूल होंगे बंद, देखिये जिलेवार लिस्ट

Must read

सरकार और किसानों के बीच फिर बिना नतीजे के खत्म हुई बैठक, 5 दिसंबर को फिर होगी बैठक

Yuva Haryana, 03 December, 2020 नए कृषि कानून के विरोध में देश की राजधानी दिल्ली में किसानों का प्रदर्शन जारी है। किसान संगठनों की मांग...

हरियाणा में साल 2021 की सरकारी छुट्टियों का कलैंडर जारी, जानिए कब-कब रहेगा अवकाश ?

Yuva Haryana, 03 December, 2020 हरियाणा सरकार की तरफ से साल 2021 में सरकारी छुट्टियों को लेकर सरकारी कैलेंडर जारी किया गया है। बता दें...

हरियाणा पुलिस ने जारी की Traffic Advisory, दिल्ली जाने के लिए इन रास्तों का करें इस्तेमाल, देखिए

Yuva Haryana, 03 December, 2020 किसानों के सिंघु बाॅर्डर धरने के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग-44 अवरूद्ध हो गया है। जिसके मध्यनजर पुलिस प्रशासन ने ट्रैफिक एडवाईजरी...

Haryana में आज कोरोना के 1635 नये केस, देखें मेडिकल बुलेटिन

Yuva Haryana, 03 December, 2020 हरियाणा में स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी मेडिकल बुलेटिन के आकंड़ों के मुताबिक आज प्रदेश में 1635 नये कोरोना...

Share this News
77Shares

Yuva Haryana, 19 November,  2020

हरियाणा में अब ऐसे राजकीय प्राइमरी और माध्यमिक स्कूलों को बंद कर दिया जाएगा, जिनमें 10 या इससे कम छात्र हैं। इन स्कूलों को नजदीकी राजकीय स्कूलों में मर्ज करने की योजना तैयार कर ली गई है। प्राइमरी स्कूलों के 385 और मिडिल स्कूलों के 76 अध्यापकों को भी दूसरे स्कूलों में स्थानांतरित किया जाएगा।

14 प्राइमरी और 22 मिडिल स्कूल ऐसे हैं, जहां एक भी अध्यापक नहीं है। प्रदेश में 228 प्राइमरी और 43 मिडिल स्कूल ऐसे हैं जिनमें छात्र संख्या 10 या इससे कम है। सूत्रों के अनुसार, अगला सत्र शुरू होने से पहले इन स्कूलों को आसपास के राजकीय स्कूलों में मर्ज कर दिया जाएगा। इसके लिए शिक्षा विभाग को सर्वे कर कम छात्र संख्या वाले स्कूलों की सूची तैयार करने के निर्देश दिए गए थे।

 

पानीपत के दो स्कूल सूची में शामिल हैं, जहां महज 17 विद्यार्थी हैं। इनमें खंड मतलौडा के अंतर्गत राजकीय प्राथमिक स्कूल बेगमपुर के स्कूल में 8 विद्यार्थियों का एनरोलमेंट हुआ है, जबकि खंड इसराना के अंतर्गत राजकीय प्राथमिक स्कूल रामपुरा स्कूल में मात्र 9 विद्यार्थी हैं। इन दोनों प्राथमिक स्कूलों में दो-दो अध्यापक कार्यरत हैं।

प्रदेश के जिन जिलों के स्कूलों को मर्ज किया जा रहा है उनकी संख्या इस प्रकार है –

जिला      प्राइमरी स्कूल     मिडिल स्कूल
अंबाला         07                     01
भिवानी         23                     03
चरखी दादरी  17                     02
फरीदाबाद      01                    00
फतेहाबाद      09                    00
गुरुग्राम          06                    00
हिसार            06                    04
झज्जर           02                    02
जींद              04                    01
कैथल            09                    00
करनाल         12                     00
कुरुक्षेत्र         28                     00
महेंद्रगढ़         27                    04
नूहं मेवात       06                    11
पलवल          02                    00
पंचकूला        10                    02
पानीपत         02                    00
रेवाड़ी            15                    01
रोहतक          01                    01
सिरसा           12                    01
सोनीपत         06                   03
यमुनानगर      23                    07
कुल              228                  43

10 से कम बच्चों की संख्या वाले स्कूलों की संख्या

बच्चों की संख्या        प्राइमरी स्कूल          मिडिल स्कूल

00                         14                          19
01                         09                          00
02                        12                           00
03                        11                           01
04                        21                           00
05                       16                            04
06                       23                            01
07                       22                           04
08                       23                           05
09                       33                           06
10                      44                            03
कुल                     228                          43

जिले में 10 से कम संख्या वाले राजकीय स्कूलों की सूची विभाग को भेज दी गई थी। जिले के दो स्कूल ऐसे हैं जिनमें छात्र संख्या 10 से कम हैं। अभी मर्ज करने के आदेश नहीं हुए हैं।


Share this News
77Shares

More articles

Latest article

सरकार और किसानों के बीच फिर बिना नतीजे के खत्म हुई बैठक, 5 दिसंबर को फिर होगी बैठक

Yuva Haryana, 03 December, 2020 नए कृषि कानून के विरोध में देश की राजधानी दिल्ली में किसानों का प्रदर्शन जारी है। किसान संगठनों की मांग...

हरियाणा में साल 2021 की सरकारी छुट्टियों का कलैंडर जारी, जानिए कब-कब रहेगा अवकाश ?

Yuva Haryana, 03 December, 2020 हरियाणा सरकार की तरफ से साल 2021 में सरकारी छुट्टियों को लेकर सरकारी कैलेंडर जारी किया गया है। बता दें...

हरियाणा पुलिस ने जारी की Traffic Advisory, दिल्ली जाने के लिए इन रास्तों का करें इस्तेमाल, देखिए

Yuva Haryana, 03 December, 2020 किसानों के सिंघु बाॅर्डर धरने के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग-44 अवरूद्ध हो गया है। जिसके मध्यनजर पुलिस प्रशासन ने ट्रैफिक एडवाईजरी...

Haryana में आज कोरोना के 1635 नये केस, देखें मेडिकल बुलेटिन

Yuva Haryana, 03 December, 2020 हरियाणा में स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी मेडिकल बुलेटिन के आकंड़ों के मुताबिक आज प्रदेश में 1635 नये कोरोना...

जेजेपी ने राज्य सरकार से की मांग, किसान आंदोलन के दौरान किसानों पर दर्ज केस हो वापस

Yuva Haryana, 03 December, 2020 जननायक जनता पार्टी ने राज्य सरकार से आग्रह करते हुए मांग की है कि किसान आंदोलन के दौरान किसानों पर...