32.9 C
Haryana
Monday, October 26, 2020

अगले साल के लिए 6 फसलों का MSP घोषित, गेहूं के समर्थन मूल्य में भी बढ़ोतरी

Must read

हरियाणा में पांच डॉक्टरों पर गिरी गाज, स्वास्थ्य मंत्री विज ने किया तुरंत सस्पेंड

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 Oct, 2020 हरियाणा में पांच डॉक्टरों को सस्पेंड किया गया है। इन डॉक्टर को सीएमओ की रिपोर्ट आने पर निलंबित किया गया...

बरोदा उपचुनाव में प्रचार के लिए मैदान में उतरेंगे Deputy CM Dushyant Chautala

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 Oct, 2020 बरोदा उपचुनाव के लिए पार्टी ने कमर कस ली है, हर कोई अपनी जीत का दावा कर रहा है।...

हरियाणा सरकार के एक साल पूरे होने पर मंगलवार को प्रदेशभर में कार्यक्रम, CM-Deputy CM रहेंगे हिसार में मौजूद

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 Oct, 2020 हरियाणा सरकार का एक साल पूरे होने को लेकर प्रदेश के हर जिल में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। सरकार ने...

Share this News
115Shares

Yuva Haryana News 

New Delhi, 21 September, 2020

नाराज किसानों को मनाने के लिए मोदी सरकार ने MSP को लेकर बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने किसानों को तोहफा देते हुए गेहूं और चना जैसी सभी सबी फसलों की न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (MSP) बढ़ा दी है। अब इससे लाखों किसानों को लाभ होगा।

दरअसल, कृषि लागत एवं मूल्य आयोग की सिफारिशों को मानते हुए मोदी सरकार ने रबी की फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) में बढ़ोतरी करने का फैसला किया है। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। कृषि मंत्री ने ट्वीट कर बताया कि गेहूं का समर्थन मूल्‍य 50 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाकर 1975 रुपये कर दिया गया है।

इस मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, कि पिछले 6 वर्षों में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में एमएसपी में लगातार वृद्धि की गई है। इससे एमएसपी के प्रति जो ग़लतफ़हमी है वह दूर हो जानी चाहिए। मैं मानता हूँ कि किसानों के हित में मोदी जी के नेतृत्व में जो फ़ैसले लिए गए हैं वे कृषि और किसान-कल्याण की दृष्टि से मील का पत्थर रहे हैं।

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट ने रबी की कई फसलों की एमएसपी में बड़ी वृद्धि का जो फ़ैसला लिया है, वह किसानों के हितों के संरक्षण के प्रति उनकी प्रतिबद्धता का परिचायक है। यह वृद्धि स्वामीनाथन कमीशन की भावना के अनुरूप है।

दरअसल, मोदी सरकार ने किसानों की आमदनी 2022 तक दोगुनी करने के लक्ष्य रखा है। सरकार अब उसी दिशा की ओर बढ़ रही है। ऐसे में कैबिनेट बैठक में यह तय माना जा रहा है था कि रबी फसल की एमएसपी में वृद्धि होना तय है।

जानिए- किस पर कितनी बड़ी MSP

– गेहूं की एमएसपी 50 रुपये प्रति क्विंटन बढ़ी। एमएसपी बढ़ने के बाद अब गेहूं 1975 रुपये प्रति क्विंटल हो गया है।

– चना के समर्थन मूल्य में 225 रुपए प्रति क्विंटल।

– जौ के समर्थन मूल्य में 75 रुपए प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है।

– मसूर के समर्थन मूल्य में 300 रुपए प्रति क्विंटल की वृद्धि हुई।

– सरसों एवं रेपसीड के समर्थन मूल्य में 225 रुपए प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है।


Share this News
115Shares

More articles

Latest article

हरियाणा में पांच डॉक्टरों पर गिरी गाज, स्वास्थ्य मंत्री विज ने किया तुरंत सस्पेंड

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 Oct, 2020 हरियाणा में पांच डॉक्टरों को सस्पेंड किया गया है। इन डॉक्टर को सीएमओ की रिपोर्ट आने पर निलंबित किया गया...

बरोदा उपचुनाव में प्रचार के लिए मैदान में उतरेंगे Deputy CM Dushyant Chautala

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 Oct, 2020 बरोदा उपचुनाव के लिए पार्टी ने कमर कस ली है, हर कोई अपनी जीत का दावा कर रहा है।...

हरियाणा सरकार के एक साल पूरे होने पर मंगलवार को प्रदेशभर में कार्यक्रम, CM-Deputy CM रहेंगे हिसार में मौजूद

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 Oct, 2020 हरियाणा सरकार का एक साल पूरे होने को लेकर प्रदेश के हर जिल में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। सरकार ने...