Home Breaking हरियाणा में बदला मौसम का मिजाज, हल्की बारिश के बीच मौसम हुआ खुशनुमा

हरियाणा में बदला मौसम का मिजाज, हल्की बारिश के बीच मौसम हुआ खुशनुमा

0
103Shares

Sahab Ram, Yuva Haryana, Chandigarh

हरियाणा के ज्यादातर हिस्सों में हल्की बारिश से मौसम सुहावना हो गया है। आज सुबह से ही प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में हल्की बूंदाबांदी हो रही है जिस वजह से जहां किसानों के चेहरे खिल उठे हैं वहीं आम लोगों को भी तपती गर्मी से राहत मिली है।

मौसम वैज्ञानिक डॉ. मदन लाल खिचड़ के मुताबिक एक जून तक मौसम परिवर्तनशील रहेगा, उसके बाद फिर से तापमान में बढ़ोत्तरी होगी। अब पश्चिमी विक्षोभ के चलते मौसम में बदलाव आया है, कई जगहों पर आंधी और हल्की बूंदाबांदी होगी।

मौसम विभाग के मुताबिक 29 जुलाई से लेकर एक जून तक मौसम परिवर्तनशील रहेगा और कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश होगी। मौसम विभाग के मुताबिक तापमान में इस वक्त गिरावट दर्ज की जाएगी। पिछले तीन चार दिनों की चिलचिल्लाती गर्मी से अब लोगों को राहत मिलेगी।

किसानों के चेहरे भी हल्की बूंदाबांदी के बाद खिल गए हैं। किसानों की नरमे, कपास और सब्जियों की फसलों को काफी फायदा हो रहा है वहीं धान की बिजाई करने वाले किसानों के लिए भी यह हल्की बारिश रामबाण साबित हो रही है। किसानों को अगले पांच सात दिनों तक फसलों की सिंचाई की चिंता भी नहीं है।

मौसम पूर्वानुमान:-
हरियाणा राज्य में 28 मई तक मौसम खुश्क व गर्म परन्तु पश्चिमीविक्षोभ के आंशिक प्रभाव से 29 मई को मौसम में बदलाव तथा 29 मई रात्रि से 1 जून के बीच में आंशिक बादल, तेज हवाएं चलने व गरजचमक के साथ ज्यादातर स्थानों पर बारीश होने की संभावना तथा जिसे तापमान में गिरावट संभावित।
मौसम आधारित कृषि सलाह:
1. नरमा की बिजाई अब तक न की है बारीश की संभावना को देखते हुए रोक लें।
2. प्रमाणित किस्मों के उत्तम बीजों का प्रबंध कर अच्छी प्रकार से खेत तैयार कर धान की नर्सरी अब तक न लगाई है तो जल्दी से जल्दी लगाए ।
3. रबी फसल की कटाई के बाद खाली खेतो की गहरी जुताई कर जमीन को खुला छोड़ दें ताकि सूरज की तेज धूप से गर्म होने के कारण इसमें छिपे कीडो के अण्ड़े तथा घास आदि के बीज नष्ट हो जायें।
4.खाली खेतों में हरी खाद के लिए सनई, ढैंचा आदि की बिजाई के लिए बीज का प्रबंध कर ले ताकि संभावित बारिश के बाद भूमि की उर्वरा शक्ति बढ़ाने के लिए बिजाई की जा सके ।

किसान भाइयों के लिए अन्य सलाह:-
1. कोरेना से रक्षात्मक बचाव के लिए खेत में काम करते समय व गांव/मंडी में भी मुहं पर साफा या मास्क अवश्य लगाए ।
2. गांव , खेत व मंडी में एक दूसरे से आवश्यक व्यक्तिगत दूरी अवश्य बनाकर रखे ।
3. साबुन व सेनेटाइजर से बार -बार हाथ धोए तथा स्वछता का ध्यान अवश्य रखे।
4. फल अवशेषों को न जलाए ताकि पर्यावरण स्वच्छ रहे तथा उर्वरा शक्ति कम न हो सके। अवशेषों को भूमि में दबाए तथा उर्वरा शक्ति को बढ़ाये जिससे आगामी फसल से ज्यादा उत्पादन लिया जा सके।
5. खेत या आसपास के क्षेत्र में कहीं भी टिड्डी दिखाई दे तो नजदीक के कृषि विभाग के अधिकारी या नोडल अधिकारी के मोबाइल नम्बर 9215809009 या हेल्पडेस्क 01662-225713 या कृषि विज्ञान केंद्र पर जानकारी दे ताकि समय रहते बचाव के उपाय अपनाकर नुकसान से बचा जा सके।
🙏🙏
स्वस्थ रहे ,सुरक्षित रहे ,जागरूक बने
स्वस्थ किसान स्वस्थ भारत🌿🌴
⛅🌧कृषि मौसम विज्ञान विभाग,
चौधरी चरणसिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

हरियाणवी एवं पंजाबी गानों में मॉडलिंग करने वाली युवती ने लगाए दुष्कर्म के आरोप, डायरेक्टर पर केस दर्ज

Yuva Haryana, Fatehabad फतेहाबाद म&#…